प्रेम गीत

तेरी मीठी- मीठी बातों ना मुझको
तुम बहला लेना
आसां है नही मेरा दिल लेना – २
जो तीर नज़र मुझपे डाला
दिल के दीवार गिरा डाला
दिल की जो बात है होठों से
इतना जल्दी कहला लेना
आसां है नही मेरा दिल लेना – २
गालों का रंग गुलाबी है
कजरारे नयना शराबी है
अपनी चिकनी इन अदाओं से
ना मुझको तुम फिसला देना
आसां है नही मेरा दिल लेना – २
तेरा जादू है मुझपे छाया
सब कहते है पीकर आया
गिर जाउ जो तेरी बाहों मे
तो दामन मे अपने छुपा लेना
आसां है नही मेरा दिल लेना – २
जो गीत मेरे संग गाओगी
तो “कृष्णा” की हो जाओगी
रंग लूँगा तुझको अपने रंग मे
मर्ज़ी चाहे आजमा लेना
आसां है नही मेरा दिल लेना – २

Thanks,
“KRISHNA”

Leave a Reply