“रक्षक”

हमारी मातृभूमि के रक्षक वीर जवानों को स्वतन्त्रता दिवस पर समर्पित एक छोटी सी रचना –

हिम किरीट के रक्षक तुम,तुझ में शक्ति अपार
तुम से रक्षित गौरव राष्ट्र का, तुझे वन्दन बारम्बार
हे मातृभूमि रक्षक तुझे प्रणाम !

उतंग गिरि ,बर्फीली राहें,तुम सरहद के पहरेदार
दुर्गम मरुस्थल,निर्जन कानन,तुम नैया खेवनहार
हे जन्मभूमि रक्षक तुझे प्रणाम !

Happy Independence day to all.

“मीना भारद्वाज”

12 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 15/08/2016
  2. Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 15/08/2016
  3. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 15/08/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 15/08/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 15/08/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 15/08/2016
  5. mani mani 15/08/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 15/08/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 15/08/2016
  6. C.M. Sharma C.m sharma(babbu) 15/08/2016
  7. Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 16/08/2016

Leave a Reply