कुर्बानी

कुर्बानीयो से ही टल जाती है मुसीबते।
कुर्बानीयो से हीे हासील होती है नियामते।.
कुछ खोकर ही कुछ मीलता है यहॉ यारो।.
नाकारों पर मेहरबान कुदरत भी नही होती ।.
(आशफाक खोपेकर)

2 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 07/08/2016
  2. C.M. Sharma C.m.sharma(babbu) 07/08/2016

Leave a Reply