“कोशिश मत करना” पुकार सत्यम श्रीवास्तव की

शीर्षक – ” कोशिश मत करना ”

सोने चाँदी के महफ़िल में,
पनपने की कोशिश मत करना।
हम पनप जायेंगे तो,
निकलने की कोशिश मत करना।
कश्मीर को नुकसान पहुचाने की,
कोई कोशिश मत करना।
हम ठन जायेंगे फिर,
शांत कराने की कोशिश मत करना।

युवा कवि ” सत्यम श्रीवास्तव ”
नैनी, इलाहाबाद।