सात रंगों वाला सूरज

अंबर के आंगन से निकला नहीं करता विश्राम
जिस नभ में तूॅ खिला हुआ उस नभ को प्रणाम
लाल-पीले-हरे-नीले जय-जय-जय श्री राम
सात रंगों वाला सूरज तेरा कोटी-कोटी प्रणाम।

सर्व शक्तिमान कृतिमान परित्राण
तूॅ अंतरयामी करूणामयी दिव्यमान।
तूॅ पोषक कर्णधार तेरा सहस्त्रांे-सहस्त्र प्रणाम
सात रंगों वाला सूरज तेरा कोटी- कोटी प्रणाम।

तूॅ वेदऋचा योयस्विता
तूॅ सृजनकार ब्रम्हपिता
षड ऋतुओं का श्रृंगार तेरा बारम-बार प्रणाम
सात रंगों वाला सूरज तेरा कोटी-कोटी प्रणाम।

तेरे ही आलोक से जग में नया सवेरा आया
तेरे ही शक्ति प्रताप से निर्मल सुंदर काया
दुःख-सुख का संचार तेरा लाखांे-लाख प्रणाम
सात रंगों वाला सूरज तेरा कोटी-कोटी प्रणाम।

संकट में तूॅ साथी बनकर धैर्य बंधाने आया
हम बालक नादान तेरे सत्य स्नेह सिखलाया
कृपा करूणा-निधान तेरा सत-सत बार प्रणाम
सात रंगों वाला सूरज तेरा कोटी-कोटी प्रणाम।

बी पी शर्मा बिन्दु

Writer Bindeshwar Prasad Sharma (Bindu)
D/O Birth 10.10.1963
Shivpuri jamuni chack Barh RS Patna (Bihar)
Pin Code 803214