‘कलाम बन!’_अरुण कुमार तिवारी

भारत के पूर्व राष्ट्रपति,हम सब के प्रेरणा श्रोत और आदर्श पुरुष ‘मिशाइल मैन’ डाक्टर कलाम के इंतकाल के एक वर्ष पूरे होने पर हम सब की ओर से सादर श्रद्धांजलि में;

कलाम बन!
कलाम बन!

उठाये यन्त्र तन्त्र सब,
ये राष्ट्र हो अटल सबल|
करें नवल प्रयास अब,
हो धीर वीर द्रुत अनल|
तिलांजलि हो कौम की,
तू नाम बन! तू नाम बन!

कलाम बन!
कलाम बन!

अनन्त ज्ञान सृजन बेलि,
बना कलम बढ़े चढ़े!
ले राष्ट्रभाव हेल-मेलि,
युवा सुवीर चल पड़े!
विशिष्टता की धार पे,
शिष्टता तू आम बन!

कलाम बन!
कलाम बन!

हो मृत्यु जो अगर कहीं,
तो जग खड़ा रुदन करे|
जो लक्ष्य हो सफल नहीं,
तो नव सृजन कदम सधे!
तू हिन्द की दीवार सम,
आन बान शान बन!

कलाम बन!
कलाम बन!

-‘अरुण’
———————-0——————

19 Comments

  1. Dr Chhote Lal Singh Dr C L Singh 28/07/2016
  2. अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  4. babucm babucm 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  5. mani mani 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  6. Kajalsoni 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  7. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
  8. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016
    • अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 28/07/2016

Leave a Reply