नाथ कह्तां सब जग नाथ्या

नाथ कह्तां सब जग नाथ्या
गोरष कह्तां गोई ।
कलमा का गुर महंमद होता
पहलें मूवा सोई ।।

Leave a Reply