अंजाम ए कयामत

जिन्दगी में सभी कभी न कभी हीर राँझा बनते है
गर किस्मत भली तो, इश्क की दरिया भी तरते है
कुछ हार जंग प्यार की रुख करते है मयखाने की
जो रखते जिगर अंजाम-ए कयामत तक लड़ते है
!!!!
!!!!
सुरेन्द्र नाथ सिंह “कुशक्षत्रप”

26 Comments

  1. sarvajit singh sarvajit singh 25/07/2016
  2. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 25/07/2016
  3. kiran kapur gulati kiran kapur gulati 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 25/07/2016
  4. रामबली गुप्ता 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 25/07/2016
      • रामबली गुप्ता 25/07/2016
  5. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  6. C.M. Sharma babucm 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  7. mani mani 25/07/2016
  8. Kajalsoni 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  9. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  10. Rajeev Gupta RAJEEV GUPTA 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  11. Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016
  12. Dr Chhote Lal Singh Dr Chhote Lal Singh 25/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 26/07/2016

Leave a Reply