अकाल ।

दिवानों का जैसे, अकाल पड़ गया मोहल्लों में,
सुना है, मजनूँओं का बाज़ार सजा है, शहर में ?

अकाल = दुष्काल;

मजनूँ = प्रेमी;

मार्कण्ड दवे । दिनांकः १४ जून २०१६.

AKAL

12 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 18/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016
  2. mani mani 18/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 18/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 18/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016
  5. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 18/07/2016
    • Markand Dave Markand Dave 19/07/2016

Leave a Reply