इश्क एक रूह

जिस्म की दरारों से रूह
नज़र आने लगी
बहुत अंदर तक तोड़ गया
मुझे इश्क तेरा…

5 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 12/07/2016
  2. babucm babucm 12/07/2016
  3. mani mani 12/07/2016
  4. वेद प्रकाश राय वेद प्रकाश राय 12/07/2016

Leave a Reply