तो हम ईद मुबारक कह दें

“तो हम ईद मुबारक कह लें”

कैराना में हिंदू रह लें
घर-घर ना आतंकी टहलें
हम सहते जाकिर ओवैसी
ये कमलेश तिवारी सह लें
बाबर की मस्जिद ये ढह लें
भारत माता की जय कह लें
आईएस के अत्याचारों से
इनके भी तो दिल दहलें
थोड़ी मानवता की तह लें
बँद करें जेहादी पहलें
हमको भाती है अजान तो
इनके दिल भजनों में बहलें
हाफिज जैसों की ना शह लें
भारत माँ की महिमा मह लें
गौवंशों पर जीभ चले ना
तो हम ईद मुबारक कह लें
तो हम ईद मुबारक कह लें

कवि देवेन्द्र प्रताप सिंह “आग”
9675426080
???????

4 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 08/07/2016
  2. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 08/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 08/07/2016
  3. कवि देवेन्द्र प्रताप सिंह "आग" कवि देवेन्द्र प्रताप सिंह "आग" 10/07/2016

Leave a Reply