मलाला के लिए……….

डरा हुआ है वह
जिसके दोनों हाथ में
बन्दुक जैसी हथीयार है.

डरा हुआ है वह
जो कुछ भी
न समझकर
गोली चलाते है
और पवित्र औरत पर
अत्याचार चलाते है.

डरा हुआ है वह
जो धर्म की
मुखौटा पहनकर
लोगों को
गुमराह कर रहे है.

डरा हुआ है वह
जो अपनी
सत्ता की कुर्सी
हिलते हुए देखकर.

डरा हुआ है वह
उस लड़की से
जो निहत्था है .
जो गोली चलाना
जानती नहीं है
चाकू, छुरा चलना
जानती नहीं है
और बोलोया से
लोगों को मार
सकती ही नहीं.

केवल उसके
हाथ में है
ज्ञान की प्रदीप
आँखो में है
आगे बढ़ने की स्वप्न
और मन में है
पढ़ने लिखने
ज्ञान अर्जन करने की
ललक

………..चंद्र मोहन किस्कु

4 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 02/07/2016
  2. C.M. Sharma babucm 02/07/2016
  3. mani mani 02/07/2016