कालेज लाइफ की याद..

सोचा ना था, कुछ सालो में हम इतने बदल जायेंगे
काम जयादा है, समय नहीं मिलता यार, बहाने बनाएंगे
नए दोस्तों के चक्कर में, पुराने यारो को भूल जायेंगे
रास्ते में दिखने पर, Ignore (इग्नोर) कर चले जाएंगे

पर कुछ भी कहो यारो, कितना हसीन था कालेज का जमाना
वो सागर की लहरे, तिरुपति, रामेश्वरम घूमने जाना
अब लौटकर ना आएगा, वो गुजरा हुआ जमाना
बस याद करके, उन पल को, जीवन-भर है मुस्कुराना

8 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 23/06/2016
    • Prince Seth Prince Seth 23/06/2016
  2. अरुण कुमार तिवारी अरुण कुमार तिवारी 23/06/2016
    • Prince Seth Prince Seth 23/06/2016
    • Prince Seth Prince Seth 23/06/2016
  3. mani mani 23/06/2016
    • Prince Seth Prince Seth 23/06/2016

Leave a Reply