राजनीति

जाग जाओ जनता नहीं तो पछताओगे
बाहुबली नेता को जो चुनकर लाओगे ।
हक जो दिला सके वही तेरा नेता है
ख्याल गरीबों का घूस नहीं लेता है ।
उसे पहचान लो जो काम तेरा आयेगा
संकट जब पडे तो वो तुमको बचायेगा ।
चमक धमक पोस्टर परचार नहीं चाहिये
मानवता हनन वो तलवार नहीं चाहिये ।
षहर गाॅव बस्ती विकाष जो करायेगा
ऐसा ही मषीहा एक चुनके जो लायेगा ।
नीति राजनीति में इंसाफ मांगता है अब
सांसद विधायक से हिसाब मांगता है अब ।
भोली भाली जनता को ठगे हैं बहुत सब
सो रहे थे पहले अब जगे हैं बहुत सब ।
कर्णधार वही है जो वादा को निभायेगा
काम कुछ करेगा कुछ कर के दिखायेगा ।
संसद संविधान है निदान सारे जड़ का
अपना हिन्दुस्तान टूकड़ा एक धड़ का ।
बी पी षर्मा ; बिन्दु

Bindeshwar Prasad Sharma (Bindu)

5 Comments

  1. विजय कुमार सिंह 13/06/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 13/06/2016
  3. babucm babucm 13/06/2016
  4. Bindeshwar prasad sharma Bindeshwar prasad Sharma (Bindu) 13/06/2016
  5. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 13/06/2016

Leave a Reply