मौत

आप का दिन मंगलमय रहे यही शुभकामना के साथ…सुप्रभात ।
http://mktvfilms.blogspot.com/2016/06/blog-post_9.html

रूह ने पंखों की वर्ज़िश शुरू कर दी है !
अय मौत, तू यहीं-कहीं आस-पास है क्या?

रूह = प्राण; वर्ज़िश = कसरत;

मार्कण्ड दवे । दिनांकः ४ जून २०१६.

ROOH

2 Comments

  1. C.M. Sharma babucm 09/06/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 09/06/2016

Leave a Reply