भ्रम…तुम ही हो..

तेरी चाहत तेरी जुस्तजू…भ्रम है तो….
काश ! एक भ्रम ऐसा भी हो जिसमें सिर्फ तू आये….
तेरी जुस्तजू…तेरी याद कुछ भी ना हो….
क्यूंकि तुम सिर्फ तुम ही हो…हाँ तुम ही हो….
\
/सी.एम. शर्मा (बब्बू)

6 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 08/06/2016
  2. babucm babucm 08/06/2016
  3. Rajeev Gupta Rajeev Gupta 08/06/2016
    • babucm babucm 09/06/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 08/06/2016
    • babucm babucm 09/06/2016

Leave a Reply