प्रियतम

प्रियतम

क्या कहते हो प्रियतम
मुझे छोड़ तुम जाओगे,
जो आनंद बाहों में मेरे
ओर कहां तुम पाओगे ।
होगा दिल में चैन नही
मेरे बिन कोई रैन नही
हर जगह तुम प्रियतम
बैचेनी ही बस पाओगे ।
जो आनंद बाहों में मेरे
ओर कहां तुम पाओगे ।
मैं करती उत्साह वर्धन
मैं तुम्हारा तन-मन-धन
फि र छोडक़र मुझको तुम
और किसे अपनाओगे ।
जो आनंद बाहों में मेरे
ओर कहां तुम पाओगे ।
माना अश्रु देकर मुझे
चैन मिलेगा थोड़ा तुझे
छोड़ आधे रास्ते पर मुझे
जा मंजिल पर पछताओगे ।
जो आनंद बाहों में मेरे
ओर कहां तुम पाओगे ।

One Response

  1. babucm babucm 26/05/2016

Leave a Reply