छोटे हाथ

छोटे हाथ

छोटे-छोटे कर कमलों में
लाल कांच की चूडिय़ां
जिन्हें देख कर आंखों से
मन मुदित सा हुआ मेरा ।
नाक में सोने की नथनी
पैरों में चांदी की पायल
मध्य में चांदी की करधनी
कानों में सोने के कुंडल
ओढें सिर पर लाल चुनरिया ।
जिन्हें देख कर आंखों से
मन मुदित सा हुआ मेरा ।
जब चलती तो ऐसी लगती
जैसे साक्षात लक्ष्मी हो
भोला-भाला लाल चेहरा
साक्षात उस देवी का
एक दिन मुझे दर्शन हुआ ।
जिन्हें देख कर आंखों से
मन मुदित सा हुआ मेरा ।

One Response

  1. C.M. Sharma babucm 26/05/2016

Leave a Reply