पक्षियों का संसार

पक्षियों का संसार

घुम कर देखो एक बार,
पक्षियों का विचित्र संसार।
काले , श्वेत, लाल, पीले,
गहरे हरे, गहरे नीले ,
समस्त रंग विधाता ने
इनमें भर दिये देखो यार ।
पक्षियों का विचित्र संसार।
बुलबुल, हंस, कौवा, तोता,
गुरशल, मोर, बतख, गोरैया
मिलकर रहते एक जगह सब
करते रहते हमेशा प्यार ।
पक्षियों का विचित्र संसार।
वाणी सबकी अलग-अलग है
वर्ण में भी सबके है भेद
जब ये बोलें मीठी बाणी
कानों को मिले आराम ।
पक्षियों का विचित्र संसार।
पेड़ों पर हैं रात को
करते वहीं सभी आराम
दिन निकले जब सुबह हो
चल देते ये अपने काम
पक्षियों का विचित्र संसार।

3 Comments

  1. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 18/05/2016
  2. babucm babucm 18/05/2016
  3. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 19/05/2016

Leave a Reply