जनसख्या वृद्धि और मेरा सुझाव

यूँही दर रहा जनसख्या वृद्धि का
हम सब जल्द बेघर हो जायेंगे
जब सोने को जगह नहीं मिलेगा
तब खड़े खड़े हनीमून मनाएंगे

गरीबी भुखमरी व बेकारी का
जनसख्या ही एक कारण है
बेतहासा वृद्धि पर रोक ही सभी
समस्याओं का निवारण है।

जनसख्या को रोकने के लिए
ऐतिहासिक कदम उठाना है
40 साल में सबकी शादी हो
ऐसा वैधानिक कानून बनाना है

हर नव दंपत्ति को नीद की
गोली मुफ्त में बट वाना है
रात्रिकालीन ध्वनि यंत्रो पर
कानूनी प्रतिबन्ध लगाना है।

जब लोगों के वैवाहिक जीवन
का समय कम हो जायेगा
बच्चे पैदा करने की रफ़्तार
पर भी अंकुश लग जायेगा।

लोग रात में जब केवल सोयेंगे
जनसख्या स्वतः रुक जाएगी
देश का चहुमुखी विकास होंगा
सबके घरों में खुशहाली आएँगी।।

✍सुरेन्द्र नाथ सिंह “कुशक्षत्रप”✍

8 Comments

  1. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 14/05/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 14/05/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 14/05/2016
  3. sarvajit singh sarvajit singh 14/05/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 14/05/2016
  4. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 14/05/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 14/05/2016
  5. Kamaljat989 20/07/2016

Leave a Reply