बसन्त जी का आना

बसन्त जी का आना

खूबसूरती का आलम
है चारों तरफ छाया हुआ
चारों तरफ फूलों की सुगन्ध
बसन्त जी का आना हुआ।
हाथी पर सवार हुए
मदमस्ती से गाते हुए
अपने साथ में हवा तेज
जिसमें फूलों की महक
लेकर जैसे आता हुआ ।
बसन्त जी का आना हुआ।
हरियाली और रंग-बिरंगी
है ये ऋतु मतवारी
खूबसूरती आँखों में भरलूँ
लगती है बड़ी ही प्यारी
कैसा मौसम मस्ताना हुआ।
बसन्त जी का आना हुआ ।

Leave a Reply