फूलों की वादियाँ

फूलों की वादियाँ

फू लों की महकती वादियाँ
बनके बहती शीतल हवा।
हवा में अजीब सुगंध -सी
भरती साँसों में सुगन्ध
कभी गर्मी, कभी सर्दी
कभी धुँध संग लाती हवा।
फू लों की महकती वादियाँ
बनके बहती शीतल हवा।
पेड़ों को झुकाती हिलाती
गहरे वनों , खाईयों, खेतों
पानी उथली की लहरों ओर
बांसों में लय भरती हवा।
फू लों की महकती वादियाँ
बनके बहती शीतल हवा।

Leave a Reply