विवाहित की पहचान(व्यंग)

हम पर ही क्यों इतनी बंदिश लगाई जाती है l
माँग में सिन्दूर और चुटकी पहनाई जाती है ll
हम तो दूर से ही शादीशुदा नज़र आते है l
पुरुष शादीशुदा होकर भी कुंवारा बताते है ll

कोर्ट ने महिलाओ के फरमान पर किया ऐलान l
शादीशुदा पुरुषों पर लगेगा “सूरज” का निशान ll
जिससे ये निशान पुरुषों में दूर से नज़र आएगा l
और पुरुष अपने को कुंवारा नहीं बता पाएगा ll

एक पुरुष के दिमाग में खुरापाती ख्याल आया l
उसने माथे से “सूरज” के निशान को मिटाया ll
पराई नारी को बिना किसी डर के छेड़ने लगा l
तभी उस नारी का थप्पड़ उसके कान पे लगा ll

गुस्से से बोली हमें ………………………….

उल्लू समझकर आप जो ये निशां मिटा रहे है l
अब भी मिटने के निशां साफ नज़र आ रहे है ll
सुनकर हुए शर्मिंदा दौड़े आ न जाये कोई अपना l
घबराकर खुली आँखे पाया देख रहे थे हम सपना ll

बेशक ये एक सपना था इसमें नहीं कोई सच्चाई l
पुरुषों पर भी बंदिश हो जो नारी पर लगती आई ll
नारी का करो सम्मान वो ही हमें जीना सिखाती l
हमें माँ रूप में नारी ही इस दुनिया में लेकर आती ll

———————

5 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 21/04/2016
  2. अरुण अग्रवाल अरुण जी अग्रवाल 21/04/2016
  3. C.M. Sharma babucm 21/04/2016
  4. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 21/04/2016
  5. praveen 23/04/2016

Leave a Reply