रब ही जाने ……..ये क्या हो रहा है …………!!

रब ही जाने ……..ये क्या हो रहा है …………!!

कोई रोते – रोते हँसता फिरे
कोई हँसते – हँसते रो रहा है
कोई सोते हुए भी जागा लगे
कोई जागते हुए भी सो रहा है !
रब ही जाने इस जग की लीला… जाने ये क्या हो रहा है !!

ऐसा बहुत कुछ दिखता मिलता है
जिसे समझने के इंसान खो रहा है
कहीं पर खैरात के नाम पर लूट मची
कही धर्म के नाम पर शोषण हो रहा है !
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

नेता इमदाद पे इमदाद फरमा रहे है
फिर भी रईसजादा गरीब नवाज हो रहा है
राजा-प्रजा के मध्य कोई तालमेल नहीं
अंधेर नगरी चौपट राजा चरितार्थ हो रहा है
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

समझ नहीं आती प्यार मोहब्बत की बाते
दंगा फसाद तो अब यंहा आम हो रहा है
कही जंगल में मंगल का नजारा दिखता है
अपना तो शहरों भी अब वीराना हो रहा है
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

खान साहब से बात हुई, बोले
आई पी एल मैच देख रहा था
खिलाड़ी खेल रहे थे बच्चों की माफिक
कमेंट्री ऐसे, जैसे कोई मजाक हो रहा है !
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

मंदिर में भीड़ लगी थी भक्तो की
तिवारी जी भी उसमे शामिल थे
बोले हम तो नाममात्र के भक्त है
असली तो मूर्ति के पीछे सो रहा है !
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

हमने सोचा किसी ज्ञानी से बात की जाये
गोयल साहब, टकरा गये राह के मध्य में
बोले फिल्मकार से मिलना था गीत के सिलसिले में
बहार से ही दरबान ने लौटा दिया ये कहकर
अंदर साहब व्यस्त है, नायिका का कास्टिंग काउच हो रहा है !

रब ही जाने इस जग की लीला… जाने ये क्या हो रहा है !!
अब रब ही जाने इस जग की लीला… दुनिया में जाने ये क्या हो रहा है !!

!
!
!
डी. के निवातियाँ ______@

10 Comments

  1. babucm babucm 12/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 12/04/2016
  2. Er. Anuj Tiwari"Indwar" Er. Anuj Tiwari"Indwar" 12/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 13/04/2016
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 12/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 13/04/2016
  4. sarvajit singh sarvajit singh 12/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 13/04/2016
  5. Bimla Dhillon 14/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 16/04/2016

Leave a Reply