६. सारे चमन के फूल………… |प्रेम गीत |– “मनोज कुमार”

तितली से भोरों से माँग, माँग ले आया |
सारे चमन के फूल, फूल ले आया ||
खास तुम्हारे लिए, जान तुम्हारे लिए |
यार तुम्हारे लिए, हाँ तुम्हारे लिए ||

सारे चमन के फूल, फूल ले आया ||……………….

परियों से शक्र से पूछ, पूछ ले आया |
सारे फ़लक के तारे, तारे ले आया ||
खास तुम्हारे लिए, जान तुम्हारे लिए |
यार तुम्हारे लिए, हाँ तुम्हारे लिए ||

सारे चमन के फूल, फूल ले आया ||……………….

हर से हरी से दान, दान ले आया |
सारे नागों की मणि, मणि ले आया ||
खास तुम्हारे लिए, जान तुम्हारे लिए |
यार तुम्हारे लिए, हाँ तुम्हारे लिए ||

सारे चमन के फूल, फूल ले आया ||……………….

पाताल के अजरों से भेट, भेट ले आया |
सारे सीपों के मोती, मोती ले आया ||
खास तुम्हारे लिए, जान तुम्हारे लिए |
यार तुम्हारे लिए, हाँ तुम्हारे लिए ||

सारे चमन के फूल, फूल ले आया ||……………….

“मनोज कुमार”

2 Comments

  1. Er. Anuj Tiwari"Indwar" Er. Anuj Tiwari"Indwar" 03/04/2016
  2. Chandan Gupta 09/04/2016

Leave a Reply