मेरे दिल की बात: – मेरे पिता

मेरे दिल की बात: – मेरे पिता
दिन रात काम करता,
यहाँ से वहाँ दौड़ता,
हमारे लिए जीता,
वो है मेरे पिता I
ख्याल रखते माँ का और हमारा,
अपना दर्द भूलकर,
खुशियाँ देते ढेर सारा,
वो है मेरे पिता I
जब जाते है गांव ऐसे लगे,
जैसे धुप है न छाओं,
हमें याद करता,
अपनी आंसुओं को सीता,
वो है मेरे पिता I ________________________राकेश गुप्ता

Leave a Reply