प्यार की नई दुनिया बसायेंगे.. ( प्रेम गीत )

प्यार की नई दुनिया बसायेंगे………!

आ जा सनम दोनों जिंदगी साथ बिताएंगे
इस जहाँ में प्यार की नई दुनिया बसायेंगे.!!

बहुत देखे है दर्द इस जमाने में
वक़्त बीता है दुनिया आजमाने में
अब छोड़कर बाते दुनियादारी की
दिल की दिल से आवाज मिलाएंगे ….!!

आ जा सनम दोनों जिंदगी साथ बिताएंगे
इस जहाँ में प्यार की नई दुनिया बसायेंगे.!!

दूर तुम बैठे हो, दूर हम बैठे है
लगता है जैसे एक दूजे से रूठे है
गिराकर दीवार मजबूरियों की
सबके मन का ये भ्रम मिटायेंगे ….!!

आ जा सनम दोनों जिंदगी साथ बिताएंगे
इस जहाँ में प्यार की नई दुनिया बसायेंगे.!!

किसी को हो पसंद नफरत करें तो करे
हम क्यों दुनिया की इस बगावत से डरे
रब की इबादत है इश्क,फिर बुराई क्या
बन के राधा और श्याम रास रचायेंगे…..!!

आ जा सनम दोनों जिंदगी साथ बिताएंगे
इस जहाँ में प्यार की नई दुनिया बसायेंगे.!!
!
!
!
रचनाकार ::—>>> डी. के निवातियाँ

10 Comments

  1. योगेश कुमार 'पवित्रम' योगेश कुमार 'पवित्रम' 01/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 01/04/2016
  2. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/04/2016
    • डी. के. निवातिया dknivatiya 01/04/2016
  3. sarvajit singh sarvajit singh 01/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 02/04/2016
  4. munshi prenchand uday 03/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 04/04/2016
  5. C.M. Sharma babucm 11/04/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 11/04/2016

Leave a Reply