बसन्त जी का आना

बसन्त जी का आना

खूबसूरती का आलम
है चारों तरफ छाया हुआ
चारों तरफ फ ूलों की सुगन्ध
बसन्त जी का आना हुआ।
हाथी पर सवार हुए
मदमस्ती से गाते हुए
अपने साथ में हवा तेज
जिसमें फूलों की महक
लेकर जैसे आता हुआ ।
बसन्त जी का आना हुआ।
हरियाली और रंग-बिरंगी
है ये ऋतु मतवारी
खूबसूरती आँखों में भरलूँ
लगती है बड़ी ही प्यारी
कैसा मौसम मस्ताना हुआ।
बसन्त जी का आना हुआ ।

Leave a Reply