हक़ीकत

लोग जिंदगी भर जवानी के सपने देखते रहते हैं

और कम्बख्त बुढ़ापा हवा के झोंके की तरह आ जाता है

लोग ख्वाबों के महल बनाते रहते हैं

और हकीकत का खंडहर आईना दिखा जाता है

One Response

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 19/03/2016

Leave a Reply