एक ललकार नीच हिन्दुओं को

–एक ललकार नीच हिन्दुओं के लिए–

भ्रष्ट राजनीति खुली बयानबाजियों में
आके धेनु-रक्षा नीतियों पे मत रीझिए
गायों की दशा के जिम्मेदार हम खुद ही हैं
खून घूंट का ना सिर्फ तस्करों पे पीजिए
अब तो जागो दुष्ट नीच सोये क्यों हो आँख मींच
अब खोल हाथ पुण्य कर्म कांड कीजिए
काट देंगे तस्करों कसाइयों कॊ बाद में हम
पहले सब ही गऊ पालन का संकल्प लीजिए