भोले बाबा

भोले जी का रैप गीत मेरे अंदाज़ में —

जय बाबा भोले भंडारी
तेरी महिमा सबसे न्यारी
दूध, धतूरा बेलपत्र और
भस्म भाँग है तुझको प्यारी
बाबा मेरे सबसे भोले
देव असुर सब इनके चेले
जग से मारा सबसे हारा
मुझको अपनी शरण में लेले
बाबा देख जरा यहाँ आकर
सब बन गये दुष्टों के चाकर
राम नाम जपने वाले फिर
वाल्मीकि बन गये रत्नाकर
अब तो गंगा मैली हो गयी
सबकी जुबां विषैली हो गयी
मानवता भी पाप के घर में
देखो आज रखैली हो गयी
धेनु की हालत बेकारी
गली गली में भटके प्यारी
निर्मोही इस जग में वो भी
खाई जाती है बेचारी
बाबा मेरे अब तो आओ
आके हमको धीर बँधाओ
जग में जो भी दीन दुखी है
उसकी नैया पार लगाओ
तांडव का तू नृत्य दिखा दे
जग के असुरी दुष्ट मिटा दे
खोल दे आँख तीसरी अब तो
अंधकार का जिन्न भगा दे
सब भक्तो अब जोर से बोलो
दरवाजे अब दिल के खोलो
बाबा तीन लोक के मालिक
अब सब इसकी शरण में हो लो

कवि देवेन्द्र प्रताप सिंह “आग”
9675426080

Leave a Reply