आँखों को जो उसका दीदार हो जाए…IBN

आँखों को जो उसका दीदार हो जाए
मेरा सफ़र भी मुकम्मल यार हो जाए
मैं भी हज़ारों ग़ज़ल लिखता उसपे
काश..हमें भी किसी से प्यार हो जाए
==========================
…………इंदर भोले नाथ……………

writing-pad-table-29548228

Leave a Reply