तुझसे वादा जो किया – शिशिर “मधुकर”

तुझसे वादा जो किया हमने निभाया है सदा
हमको तो जान से प्यारी है तेरी हर एक अदा
अपने आगोश की ताकत का तुझे इल्म नहीं
ऐसा सुकूँ हमको तो अब ना मिलता है कहीं
तेरे ये नरम हाथ जब से हाथों में मेरे आए है
ग़म ए तन्हाईओं से हम खुद को बचा पाए है
तूने जिस दिन से सब कुछ हम पर वार दिया
हमने भी छोड़ के ये जहाँ तुझे वो प्यार दिया
कोई तूफान भी गर अब तेरी तरफ आया है
मेरे सीने की ढाल से ही वो सदा टकराया है
मुहब्बत की दवा जब इंसा को मिल जाती है
किसी भी चोट की पीड़ा ना फिर सताती है

शिशिर “मधुकर”

13 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 30/01/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/01/2016
  2. omendra.shukla omendra.shukla 30/01/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/01/2016
  3. salimraza salimraza 30/01/2016
  4. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 30/01/2016
  5. योगेश कुमार 'पवित्रम' योगेश कुमार 31/01/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/01/2016
  6. Bimla Dhillon 31/01/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 31/01/2016
  7. Manjusha Manjusha 01/02/2016
    • Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 01/02/2016
  8. YUDHI 10/02/2016

Leave a Reply