“शब्द”

‘शब्दों’की महिमा कम नही होती
भावनाओं के पंख ना होते
मन अभिव्यक्ति नही होती ।

जो ना होते ‘शब्द’हम कहाँ होते
मैं ना होती, तुम ना होते
बस दोनों जहां होते ।।

धर्म,संस्कृति,आचार-विचार
‘शब्द,सब की शक्ति है ।
मानव सभ्यता के इतिहास की
‘शब्द’बड़ी अभिव्यक्ति है ।।

‘मीना भारद्वाज’

6 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 22/01/2016
  2. Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 22/01/2016
  3. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 22/01/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 23/01/2016
  4. Bimla Dhillon 23/01/2016
    • Meena Bhardwaj Meena bhardwaj 23/01/2016

Leave a Reply