कलम ………….( 8 )

कलम तो ठहरी कठपुतली
नाचे वैसे जैसे कोई नचाये,
मन के विचार रख कागज़ पर
व्यक्तित्व से पहचान कराये !!
!
!
!
D.K. Nivatiya……

2 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 22/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 22/01/2016

Leave a Reply