हक़ बातें तू हरगिज़ ना कह पाएगा – GAZAL SALIM RAZA REWA

हक़ बातें तू हरगिज़ ना कह पाएगा
अहसानों के तले अगर दब जाएगा !

मात- पिता का दिल जो कभी दुखाएगा
चैन  सुकूं  वो जीवन  भर  ना पाएगा !

तेरी  दुनिया  खुशिओं  से  भर जाएगी
गर  औरों  के  काम हमेशा   आएगा !

आज  भी  रस्ता  तकते  है  मेरे नैना
मेरा  प्रीतम लौट के  इक दिन आएगा !

जब बेटे  को  देखेगी  भूँखा  -प्यासा
माँ  का  दिल  टुकड़े -टुकड़े हो जाएगा !

क्यूं  दौलत  पे  लोग  बहुत इतराते  हैं
इक दिन मिट्टी में सब कुछ मिल जाएगा !

मेरी ग़ज़लों  के  कुछ  शेर  सुना  दीजे
वक़्त क़ज़ा इस दिल को सुकूं मिल जाएगा ! 
———————————
हक़ – सच
क़ज़ा – मौत
salim raza rewa 9981728122

6 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 08/01/2016
  2. SALIM RAZA REWA salimraza 08/01/2016
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 08/01/2016
  4. SALIM RAZA REWA salimraza 08/01/2016
  5. Anuj tiwari 09/01/2016
  6. SALIM RAZA REWA salimraza 09/01/2016

Leave a Reply