यह कैसी कहानी है ?

यह कैसी कहानी है ?
यह कैसी कहानी है ?

राजा है न रानी है ,
उतरे हुए चेहरे हैं ,
क्यूँ धुप्प अँधेरे हैं ,
बिजली है न पानी है।

यह कैसी कहानी है ?
यह कैसी कहानी है ?

सहमा हुआ है बचपन ,
सूनसान बुढ़ापा है,
और टेन्स्ड जवानी है।

यह कैसी कहानी है ?
यह कैसी कहानी है ?

खोता हुआ अपनापन ,
है आँखों में सूनापन ,
सुनी सुनी आँखों में ,
न आग न पानी है।

यह कैसी कहानी है ?
यह कैसी कहानी है ?

सुखी क्यों ममता है,
माँ की नहीं समता है ,
भीगी हुई इक माँ की ,
क्यों कर्कश वाणी है ,
उसके भी आँचल में ,
न दूध न पानी है।

यह कैसी कहानी है ?
यह कैसी कहानी है ?

4 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir 31/12/2015
    • Manjusha Manjusha 31/12/2015
  2. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 31/12/2015
    • Manjusha Manjusha 31/12/2015

Leave a Reply