पहचान

पहचान अब तो मुश्किल ईमानदारी की
पंडित, मोलवी भी जब गुनाह करने लगे !
!
करते रहे जो क़त्ल इंसानियत का सरेआम
खुदा के फ़रिश्ते दुनिया में वो कहलाने लगे !!

डी. के. निवातियाँ _______@@@

10 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir 04/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/01/2016
  2. asma khan asma khan 05/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/01/2016
  3. salimraza salimraza 05/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/01/2016
  4. Dr. Mobeen Khan Dr. Mobeen Khan 05/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/01/2016
  5. salimraza salimraza 05/01/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/01/2016

Leave a Reply