शराब

शराब है खराब!
इसे पीना नही जनाब!
कुकर्मो की उपज बडे
शराब हाथ मे आने से
अच्छा – खासा इन्सां भी
पडा मिले गलियारे मे
लाखो कमाये हो तूने
पीने पर हाथ फैलायेगा
अपनो की नजरो मे गिरकर
कुत्ते, तू कहलायेगा
कहाँ गयी सम्पत्ति तेरी
लगाते रहना फिर हिसाब
शराब है खराब !
इसे पीना नही जनाब !
छिन जायेगी मान, प्रतिष्ठा
होगी सेहत की हानि
वंशज भी कुलक्षित होगे
मर्दानगी होगी पानी
फेफडे होगे संक्रमित
किडनी हो जायेगी फेल
थोडे दिन का मेहमां होगा
रूक जायेगी जीवन रेल
एक गन्दी सी लत के कारण
क्यू करता जीवन बरबाद
शराब है खराब !
इसे पीना नही जनाब !