प्र का प्रभाव ….. (रै कबीर)

Fotor_144631195707129

प्रवचन प्रवाह में प्रवेश मेरा
प्रति प्रति प्रफुल्ल हुआ
प्राप्त प्रचलित प्रकाश मेरा
प्रेम प्रभाव प्रबल हुआ
प्रलय से प्रस्थान मेरा
प्रीत प्रस्ताव प्रस्तुत हुआ
प्रात: प्राण प्रभास मेरा
प्रभ से प्रदान प्रसाद हुआ
प्रत्येक प्रकार प्रोत्साहित मेरा
प्रणय प्रण प्रचंड हुआ
प्रणेता प्रतिमा प्रज्ञ मेरा
प्रतिभा प्रज्ञात प्रचार हुआ
प्रवीण प्रबुद्ध प्रशिक्षण मेरा
प्रतिष्ठित प्रदीप प्रतीक हुआ
प्रमा प्रयास प्रमेय मेरा
प्रेरण प्रेष्य प्रहास हुआ
प्रान प्रारब्ध प्रहार मेरा
प्रिय प्रेरक प्रयात हुआ

Leave a Reply