यह रात बीत जायेगी!

यह रात बीत जायेगी !
कौन कह रहा है यह रात बीत जायेगी.
बिना श्रृष्टि के नव श्रृजन ,
पूरा नहीं होगा हवन,
कर ले कोई सौ जतन,
सुबह नहीं हो पायेगी.
कौन कह रहा है यह रात बीत जायेगी.

गंगा धर शर्मा ‘हिंदुस्तान’

Leave a Reply