वक्त

राह चलते चलते रहनुमा बदल गये !
मंजिल का पता नही,रास्ते बदल गये ……!
वक्त क्या बदला दोस्तो,
कस्तियाँ तो वही रही ,किनारे बदल गये……..!

2 Comments

  1. Manjusha Manjusha 26/11/2015
  2. asma khan asma khan 26/11/2015

Leave a Reply