मुसाफिर का सफर

पहले नज़रों ने ही मेहमान बनया था इमान से
दिल में रखने का ख्याल आया मुझे काफी बाद में
RKV(MUSAFIR)
******

Leave a Reply