“सच” डॉ. मोबीन ख़ान

इतना आसान नहीं है मोबीन
हर किसी का इश्तियाक बनना।।

सच सुनना किसे पसन्द है
तू छोड़ दे हर घड़ी सच कहना।।

2 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 24/10/2015
    • Dr. Mobeen Khan Dr. Mobeen Khan 27/10/2015

Leave a Reply