“हालात” डॉ. मोबीन ख़ान

हालात है मेरे खिलाफ,
वक्त भी अपनी औकात दिखा रहा है।।

कल तक जो थी मेरे साथ,
उन्हें अपने साथ लेकर आ रहा है।।

हर गुनेहगार की नजरें उठी है मेरे चेहरे की तरफ,
जैसे मेंरे चेहरे से उनका गुनाह नजर आ रहा है।।

हालात है मेरे खिलाफ,
वक्त भी अपनी औकात दिखा रहा है।।

3 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 23/10/2015
  2. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 23/10/2015
  3. Er. Anuj Tiwari"Indwar" Er. Anuj Tiwari"Indwar" 23/10/2015

Leave a Reply