धर्म- गुरु

लम्बा तिलक लगाकर भैया ,
लम्बी माला गले में डालो |
पहन कर चोंगा धर्म- गुरु का ,
जो चाहो सो तुम कर डालो |
नेताओं को साथ में लेकर ,
परमार्थ -निकेतन धाम बनाओ |
गोरख -धन्धा करो और घूमो ,
पूरे देश पर रंग जमाओ |
धर्म- गुरु के नाम पर तुझसे ,
हर अफसर भी घबराएगा |
राजनीति के संरक्षण में ,
तू सदा फूलता जायेगा |
राम नाम को साथ में लेकर ,
जिसको चाहो ,मंत्री बनवाओ |
मंगल ,शनि की दशा बताकर ,
जो चाहो, उनसे करवाओ |

आदेश कुमार पंकज

Leave a Reply