मुझको मेरा हक दो……………..

मुझको मेरा हक दो पापा
बहुत कुछ कर दिखलाऊँगी !
लेने दो खुली हवा में सांसे
बेटे से ज्यादा फर्ज निभाऊंगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

उड़ने दो किसी पतंग के जैसी
आसमान को छुकर आउंगी !!
क्यों डरते हो हैवानी दुनिया से
अकेली सब पर भारी पड़ जाउंगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

माना डगर कठिन बहुत है
मंजिल तक फिर भी जाउंगी !
मुझ पर करो भरोस तुम
कभी न दुःख पहुँचाऊँगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

करो हौसले मेरे बुलंद तुम
अधूरे सपने पूरे कर दिखलाऊँगी !
मत आंको कम मेरी ताकत,
संतान का हर फर्ज निभाऊंगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

समझा देना मात मेरी को
जिसने नारी का हर दुःख झेला है
रखे हौसला अब दिन दूर नही
जब तुम दोनों का सम्मान बढ़ाउंगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

आएगा कभी वक़्त बुरा भी,
हर सुख दुःख में साथ निभाऊंगी !
नहीं बनूँगी कमजोर कड़ी मैं,
अपने घर की ताकत बन जाउंगी !!

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

शान हूँ अपने बाबुल की
कभी न नीचा दिखलाऊँगी !
खेले गर कोई मेरी आन से,
रूप दुर्गा चंडी का भर जाउंगी !

मुझको मेरा ……………… कर दिखलाऊँगी !!

मुझको मेरा हक दो पापा
बहुत कुछ कर दिखलाऊँगी
लेने दो खुली हवा में सांसे
बेटे से ज्यादा फर्ज निभाऊंगी !!
!
!
!
[[_______डी. के. निवातियाँ _________]]

11 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir 09/10/2015
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 12/10/2015
  2. Dushyant Patel 09/10/2015
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 12/10/2015
  3. Er. Anuj Tiwari"Indwar" Er. Anuj Tiwari"Indwar" 10/10/2015
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 12/10/2015
  4. surendra gupta. 17/10/2015
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 19/10/2015
  5. Hitesh Dabar 06/03/2016
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 11/03/2016
  6. manish tiwari 08/07/2016

Leave a Reply