पीछे का आदमी

पर्दे के
पीछे का आदमी
ज्यादा घातक है
वह दिखता नहीं
करता बहुत कुछ है
उसकी मारक क्षमता
बहुत ज्यादा है
वह
किसी के
निषाने पर
टिकता नहीं
स्थिर शांत होकर
लड़ता है
वह
भांप लेता है
हर वार को
फिर
हर बार वह
अस्त्र-शस्त्र फैंकता
बल से नहीं
बुद्धि से लड़ता है।

3 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir 08/10/2015
  2. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 08/10/2015

Leave a Reply