आम का पेड़

हमनें अपने घर के आगे आम का पेड़ लगाया है
समय समय पर पानी देकर उसको हरा बनाया है
कुछ वर्षों के बाद वो हमको अपने फल खाने को देगा
और ठण्डी छाँव से अपनी मौसम की गरमी हर लेगा
कोयल इस पर बैठ के हमको नित मीठे गीत सुनाएगी
और चिड़ियों की चहचाहट मन को सब के हर्षाएगी
इसकी शाखों पे डाल के झूले हम सब सखियाँ झूलेंगी
और इन सब अनमोल पलों को जीवन भर ना भूलेंगी।

शिशिर “मधुकर”

Leave a Reply