विश्व हिन्दी दिवस

कोटि कोटि जन की अभिलाषा
हिन्दी बने विश्व की भाषा
राष्ट्र संघ मे इसे मिले स्थाान
बढे देश का और मान सम्मान
हम सब बोलें पढे लिखें हिन्दी मे
कामकाज सरकारी सब हों इसमें
नहीं उपेक्षित हो पर कोई भाषा
पूरी हो सबकी विकiस की आशा
भारत की बगिया मे फूल अनेक
रुप रंग खुशबू मे एक से एक
हाथ मे हिन्दी के हो सबका हाथ
फूलें फलें बढें सब साथ साथ

One Response

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 10/09/2015

Leave a Reply